Tuesday, September 26, 2023
spot_img

Diamond League 2023 Final । दूसरे स्थान पर रहे Neeraj Chopra, Jakub Vadlejch ने जीती ट्रॉफी

प्रतिरूप फोटो

Instagram

नीरज चोपड़ा डायमंड लीग फाइनल के अपने खिताब का बचाव करने में नाकाम रहे और शनिवार को यहां 83.80 मीटर के सामान्य प्रदर्शन के साथ दूसरे स्थान पर रहे। हेवर्ड फील्ड पर हुए फाइनल्स में 25 साल के चोपड़ा को तेज हवाओं के बीच जूझना पड़ा।

अमेरिका। ओलंपिक और विश्व चैंपियन भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा डायमंड लीग फाइनल के अपने खिताब का बचाव करने में नाकाम रहे और शनिवार को यहां 83.80 मीटर के सामान्य प्रदर्शन के साथ दूसरे स्थान पर रहे। हेवर्ड फील्ड पर हुए फाइनल्स में 25 साल के चोपड़ा को तेज हवाओं के बीच जूझना पड़ा। उनके दो प्रयास फाउल रहे। उनका दिन का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दूसरे प्रयास में आया। उन्होंने पहले प्रयास में फाउल करने के बाद दूसरे प्रयास में भाले को 83.80 मीटर की दूरी तक फेंका। उनके अन्य प्रयास 81.37 मीटर, फाउल, 80.74 मीटर और 80.90 मीटर रहे। यह मौजूदा सत्र में चोपड़ा का 85 मीटर से कम का पहला प्रदर्शन है। उन्होंने तीसरे स्थान पर रहते हुए डायमंड लीग फाइनल्स के लिए क्वालीफाई किया था। उन्होंने 2022 में ज्यूरिख में 88.44 मीटर के प्रयास के साथ डायमंड लीग फाइनल्स का खिताब जीता था।

चेक गणराज्य के याकुब वाडलेच ने 84.24 मीटर के प्रयास के साथ तीसरी बार डायमंड लीग फाइनल्स का खिताब जीता। उन्होंने अपने छठे और अंतिम प्रयास में यह दूरी तय की। वह अपने पहले प्रयास में 84.01 मीटर की दूरी के साथ शुरुआत से ही शीर्ष पर चल रहे थे। बुडापेस्ट विश्व चैंपियनशिप और तोक्यो ओलंपिक में चोपड़ा से पिछड़ने के बाद क्रमश: कांस्य और रजत पदक जीतने वाले वाडलेच ने 2017 और 2018 में भी डायमंड लीग फाइनल्स के खिताब जीते हैं।

चोपड़ा का निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 89.94 मीटर है। उन्होंने पिछले महीने विश्व चैंपियनशिप में ऐतिहासिक स्वर्ण पदक जीतने से पूर्व पांच मई को दोहा और 30 जून को लुसाने में दो व्यक्तिगत डायमंड लीग स्पर्धाएं जीती थी। बुडापेस्ट में 88.17 मीटर के प्रयास के साथ विश्व खिताब जीतने के बाद वह ओलंपिक और विश्व चैंपियनशिप दोनों खिताब हासिल करने वाले इतिहास के केवल तीसरे भाला फेंक खिलाड़ी बने थे। विश्व चैंपियनशिप का खिताब जीतने के कुछ ही दिनों बाद उन्होंने 31 अगस्त को डायमंड लीग के ज्यूरिख चरण में प्रतिस्पर्धा की जहां वह वाडलेच के बाद दूसरे स्थान पर रहे। चोपड़ा अब इसी महीने शुरू होने वाले हांगझोउ एशियाई खेलों में हिस्सा लेंगे जहां वह इंडोनेशिया में 2018 में जीते गए स्वर्ण का बचाव करेंगे।

डिस्क्लेमर: प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



अन्य न्यूज़




Source link

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments