Saturday, June 3, 2023
spot_img

नए कोच फुल्टन के मार्गदर्शन में प्रो लीग में दबदबा बरकरार रखने उतरेगा भारत

प्रतिरूप फोटो

ANI

टूर्नामेंट के यूरोपीय चरण के दौरान भारत आइंडहोवेन में मेजबान नीदरलैंड और अर्जेन्टीना से भी भिड़ेगा। भारत इस साल की शुरुआत में विश्व कप में निराशाजनक प्रदर्शन से उबरकर 2022-23 की प्रो लीग तालिका में शीर्ष पर चल रहा है।

लंदन। उत्साह से भरी भारतीय पुरुष हॉकी टीम एफआईएच प्रो लीग में घरेलू चरण की फॉर्म को शुक्रवार को यहां ओलंपियन बेल्जियम से मुकाबले के साथ शुरू हो रहे यूरोपीय चरण में भी बरकरार रखने की कोशिश करेगी।
टूर्नामेंट के यूरोपीय चरण के दौरान भारत आइंडहोवेन में मेजबान नीदरलैंड और अर्जेन्टीना से भी भिड़ेगा।
भारत इस साल की शुरुआत में विश्व कप में निराशाजनक प्रदर्शन से उबरकर 2022-23 की प्रो लीग तालिका में शीर्ष पर चल रहा है। टीम इस दौरान विश्व चैंपियन जर्मनी और ऑस्ट्रेलिया की मजबूत टीम के खिलाफ अजेय रही।
भारत ने राउरकेला चरण में तीन सीधी जीत दर्ज की जबकि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे मैच में भी शूटआउट जीतकर बोनस अंक जुटाया।
भारत आठ मैच में पांच सीधी जीत और दो शूट आउट जीतकर 19 अंक के साथ अभी अंक तालिका में शीर्ष पर है।

हरमनप्रीत सिंह की अगुआई वाली टीम शुक्रवार को यहां जब बेल्जियम और शनिवार को ग्रेट ब्रिटेन से भिड़ेगी तो उसकी नजरें जीत की लय को बरकरार रखने पर होगी।
मेजबान ग्रेट ब्रिटेन की टीम भी अच्छी फॉर्म में चल रही है। टीम ने क्राइस्टचर्च में न्यूजीलैंड के खिलाफ 5-2 और 6-1 से जीत दर्ज की और आस्ट्रेलिया को भी 2-1 और 3-3 (शूट आउट में 4-2 से जीत) से हराया। ग्रेट ब्रिटेन के भी आठ मैच में चार सीधी जीत और शूट आउट में तीन जीत से 19 अंक हैं।
दूसरी तरफ बेल्जियम की टीम मौजूदा सातवें स्थान से बेहतर स्थिति में पहुंचने की कोशिश करेगी। टीम ने मौजूदा सत्र में सिर्फ चार प्रो लीग मैच खेले हैं और उसने अर्जेन्टीना तथा जर्मनी के खिलाफ एक-एक जीत दर्ज की है।
यूरोप में होने वाले प्रो लीग मुकाबले भारत के नए कोच क्रेग फुल्टन के मार्गदर्शन में टीम की पहली वास्तविक परीक्षा होगी और देखना होगा कि वह इस बेहद दबाव वाले काम से कैसे निपटते हैं।

फुल्टन ने ऑस्ट्रेलिया के ग्राहम रीड की जगह ली है जिनके मार्गदर्शन में भारत ने तोक्यो ओलंपिक में ऐतिहासिक कांस्य पदक जीता था।
भारत ग्रेट ब्रिटेन से पिछली बार तोक्यो ओलंपिक के क्वार्टर फाइनल में भिड़ा था जिसमें टीम ने 3-1 से जीत दर्ज की थी।
रियो ओलंपिक 2016 से भारत ने बेल्जियम के खिलाफ 19 मैच खेले हैं जिसमें से टीम ने आठ में जीत दर्ज की है जबकि नौ में उसे हार का सामना करना पड़ा है। दो मुकाबले ड्रॉ रहे हैं।
भारत ने बेल्जियम से पिछला मुकाबला पिछले साल एंटवर्प में खेला था जब प्रो लीग के पिछले सत्र में भारतीय टीम ने पहला मैच 2-3 से गंवाने के बाद दूसरा मैच शूट आउट में जीता था।
हरमनप्रीत ने कहा कि वे बेल्जियम से भिड़ने के लिए और इंतजार नहीं कर सकते।
उन्होंने कहा, ‘‘एक टीम के रूप में भारत ने बेल्जियम के साथ स्वस्थ प्रतिस्पर्धा शुरू की है, विशेषकर पिछले पांच से छह साल में। हम इस प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ खेलने का लुत्फ उठाते हैं और टीम हमेशा उनके खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करने को लेकर उत्साहित रहती है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



अन्य न्यूज़




Source link

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments