Monday, March 27, 2023
spot_img

इंस्टाग्राम रील बनाते 4 युवक तालाब में डूबे:3 घंटे चला रेस्क्यू ऑपरेशन, चारों शव निकाले

चूरू16 मिनट पहले

पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से रेस्क्यू अ​भियान चलाकर करीब 3 घंटे की मशक्कत के बाद चारों के शवों को बाहर निकाला।

इंस्टाग्राम पर नहाने का वीडियो लाइव करवाते समय 4 युवकों की तालाब में डूबने से मौत हो गई। चारों युवकों की मौत की सूचना पर मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। ग्रामीणों ने युवकों के डूबने की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से रेस्क्यू अ​भियान चलाकर करीब 3 घंटे की मशक्कत के बाद चारों के शवों को बाहर निकाला। मामला चूरू जिले के सदर थाने के रामसरा गांव का है।

पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से करीब 3 घंटे रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर चारों के शवों को बाहर निकाला।

डीएसपी राजेन्द्र बुरड़क ने बताया कि गांव के 4 युवक करीब 3 बजे तालाब में नहाने के लिए उतरे थे। इस दौरान सुरेश (21) तालाब को पार करने की बात कहकर सबसे आगे तैरने लगा, लेकिन बीच पानी में संतुलन बिगड़ने से वह डूबने लगा, जिसको बचाने के प्रयास में तीनों साथी गहरे पानी में उतर गए। हादसे में सुरेश नायक (21), योगेश रैगर (18), लोकेश निमेल (18) और करीब सिंह (18) की डूबने से मौत हो गई। देर शाम तक रामसरा निवासी जीतू प्रजापत, उमर प्रजापत, रणजीत कड़वासरा, ताराचंद प्रजापत, सुभाष, ओमप्रकाश नाई और प्यारेलाल ने 3 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद एक के बाद एक चारों युवकों के शवों को बाहर निकाला।

डीएसपी राजेन्द्र बुरड़क ने बताया कि चारों युवकों के शवों को राजकीय भरतिया अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है। सोमवार को रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पोस्टमार्टम करवाकर शवों को परिजनों को सौंपा जाएगा।

मोनू को कॉल कर वीडियो बनाने के लिए बुलाया
घटनास्थल पर मौजूद लड़के मोनू (17) ने बताया कि रविवार दोपहर को लोकेश ने करीब साढ़े 4 बजे कॉल कर जोहड़ में नहाने के लिए बुलाया था। मोनू ने नहाने से मना कर दिया। इस पर युवकों ने उसे नहाने का वीडियो इंस्टाग्राम पर लाइव करने की बात कही। उसी दौरान अचानक लोकेश डूबने लगा तो मोनू घबरा गया और युवक के परिजनों को इस बारे में सूचना दी। सूचना मिलने पर ग्रामीण और युवक के परिजन मौके पर पहुंचे।

हादसे की सूचना मिलने पर पुलिस-प्रशासन के अधिकारी और जनप्रतिनिधि मौके पर पहुंचे।

हादसे की सूचना मिलने पर पुलिस-प्रशासन के अधिकारी और जनप्रतिनिधि मौके पर पहुंचे।

प्रशासन और जनप्रतिनि​धि भी मौके पर पहुंचे
घटना की जानकारी मिलने पर भाजपा नेता हरलाल सहारण सहित तहसीलदार धीरज झाझड़िया, सीओ सिटी राजेन्द्र बुरड़क, थाना​धिकारी रतननगर जसवीर सहित सदर और रतननगर पुलिस टीम मौके पर पहुंची। भाजपा नेता हरलाल सहारण ने प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि ऐसे हादसों में प्रशासन के पास रेस्क्यू के लिए कोई संसाधन उपलब्ध नहीं हैं। 108 एम्बुलेंस भी एक घंटे की देरी से पहुंची, इस पर पिकअप से शवों को अस्पताल ले जाया गया। साथ ही चारों शवों को भी ग्रामीणों के द्वारा निकाला गया।

हादसे की सूचना मिलने के एक घंटे बाद एंबुलेंस मौके पर पहुंची।

हादसे की सूचना मिलने के एक घंटे बाद एंबुलेंस मौके पर पहुंची।

कबीर और योगेश के पिता रहते हैं विदेश
ग्रामीणों ने बताया कि मृतक कबीर और योगेश के पिता विदेश रहते हैं। 2 भाइयों में योगेश सबसे बड़ा था। कबीर ने कुछ समय पहले ही पढ़ाई छोड़ी थी। दो भाई और एक बहन में वो सबसे छोटा था। लोकेश लोहिया कॉलेज का स्टूडेंट था और सुरेश ड्राइवर था।

खबरें और भी हैं…

Source link

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments