Sunday, March 26, 2023
spot_img

वाराणसी: बेटे और दो पोतों की मौत का सदमा सहन नहीं कर पाए राजबली, दसवें संस्कार के दिन ही हुई थी मौत


मृतक के घर पर ग्रामीण महिलाओं की भीड़
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

यूपी के सोनभद्र जिले में हुए दर्दनाक सड़क हादसे में वाराणसी के पुरनंदा (बेलवन) गांव निवासी राजबली राजभर (65) अपने बेटे और दो पोतों की मौत का सदमा बर्दाश्त नहीं कर सके. उनके दसवें संस्कार के दिन यानी आज सुबह बेटे और पोते की मौत हो गई। तीन मौत से चौथी मौत से परिवार में कोहराम मच गया।

राजबली का बड़ा बेटा विनोद बेहोश हो गया, जबकि ससुर की मौत और पति की हालत देखकर बहू का कलेजा फटा जा रहा था। दूसरी तरफ ग्रामीण इस दुख की घड़ी में शोकाकुल परिवार को सहारा देते रहे। किसी तरह समझा-बुझाकर परिवार को संभालने का प्रयास किया। लेकिन प्रयास काम नहीं आ रहे थे। सभी की आंखें नम थीं और हृदय विदारक रुदन से गला रुंध रहा था।

बारात में जाते वक्त हुआ हादसा

कपसेठी थाना क्षेत्र के पुरनंदा (बेलवां) गांव निवासी रामाश्रय शर्मा के पुत्र धीरज की बारात 17 फरवरी को सोनभद्र जिले के कुसी दौर गांव गई थी. बारात में 14 लोग पिकअप पर सवार हो गए। पब्लिक के सामने ही पिकअप अनियंत्रित होकर पलट गई।


Source link

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments