Saturday, June 3, 2023
spot_img

कश्मीर में जी20 बैठक से ठीक पहले पाकिस्तान में दंगे, सीमा की तरफ दौड़ी भारतीय सेना

Creative Common

पाकिस्तान की सेना ये भलि-भांति जानती है कि अपने ही देश के लोगों के गुस्से को शांत करने का सबसे अच्छा तरीका है कि भारत के खिलाफ कोई कदम उठा लिया जाए।

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की गिरफ्तारी के बाद पूरे देश में बड़े पैमाने पर आगजनी और दंगे हो रहे हैं। देश भर में उनके समर्थक पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) प्रमुख के समर्थन में सड़कों पर उमड़ पड़े। अब तक छह मौतों की सूचना मिली है, जिनमें से 1 क्वेटा से, 1 फैसलाबाद में, 1 चकदरा स्वात में और 1 लाहौर में हुई है और दर्जनों घायल हुए हैं। पूरे पाकिस्तान में अभूतपूर्व घटनाएं देखने को मिल रही है। प्रदर्शनकारियों ने परिसर के मुख्य द्वार को तोड़कर रावलपिंडी में सैन्य मुख्यालय में प्रवेश किया। भीड़ ने पाकिस्तानी सेना के लेफ्टिनेंट जनरल के घर पर भी हमला बोल दिया। इमरान समर्थकों ने कोर कमांडर का घर जला दिया है। वहीं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के लाहौर स्थिति सचिवालय को प्रदर्शनकारियों ने फूंक दिया है। लाहौर के गवर्नर हाउस को भी आग के हवाले किया जा चुका है। कुल मिलाकर कहे तो पाकिस्तान में सेना और इमरान समर्थकों के बीच जंग छिड़ी हुई है। 

गौर करने वाली बात ये है कि ये  सबकुछ उसी देश में हो रहा है जो भारत को कश्मीर से आजाद कराना चाहता है। पाकिस्तान में सेना पहली बार अपने ही लोगों से पिट रही है। इस घटना के बाद भारत ने भी बड़ा फैसला लिया है। भारतीय सेना ने पूरी सीमा को घेर लिया है। एलओसी पर सेना की जबरदस्त तैनाती कर दी गई है। भारत को डर है कि पाकिस्तान में बिगड़ते हालातों का फायदा उठाकर पीओके में बैठे आतंकी भारत में घुसपैठ कर सकते हैं। कश्मीर में जी20 बैठक से ठीक पहले पाकिस्तान में दंगे शुरू हो गए हैं। भारत को डर है कि अपने ही देश में पिट रही पाकिस्तानी सेना लोगों का ध्यान भटकाने के लिए भारत को निशाना बना सकती है। 

पाकिस्तान की सेना ये भलि-भांति जानती है कि अपने ही देश के लोगों के गुस्से को शांत करने का सबसे अच्छा तरीका है कि भारत के खिलाफ कोई कदम उठा लिया जाए। लेकिन भारत पहले ही पाकिस्तानी सेना की किसी भी साजिश को नाकाम करने की तैयारी कर चुका है। भारत ने कड़ी सावधानी बरतनी शुरू कर दी है। भारतीय सेना की नजर स्लीपर सेल्स पर भी है। भारत नहीं चाहता है कि खुद की लगाई आग की लपटें जम्मू कश्मीर तक पहुंचे। इसलिए भारतीय सेना ने कमर कस ली है। 

अन्य न्यूज़




Source link

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments